Latest News

National
States

Entertainment

Sports

Health

Business

Recent Posts

Saturday, 21 January 2017

सावधान : अगर आप भी करते हैं डिजिटल पेमेंट, तो पढ लें यह खबर

loading...
loading...
नई दिल्ली[21 जनवरी]: सिक्यूरिटी फर्म F-Secure ने बताया कि नोटबंदी के बाद से भारत डिजिटल पेमेंट बढ़ने के चलते साइबर क्रिमिनल्स का मेन टारगेट बन गया है। पाइंट ऑफ सेल्स (POS) डिवाइसेस और मोबाइल वॉलेट्स पर मालवेयर अटैक का खतरा मंडरा रहा है।




- F-Secure के प्रेसिडेंट का कहना है कि, कुछ हफ्तों से भारत में ट्रांजैक्शन ग्रोथ बढ़ने से, स्थिति चिंताजनक हो गई है।



भारत को बेस्ट सिक्युरिटी प्रोडक्ट लेने की जरुरत है, खासकर उस समय में जब आने वाले महीनों में मोबाइल वॉलेट, क्रेडिट/डेबिट कार्ड और

ऑनलाइन ट्रांजैक्शन की रफ्तार तेजी से बढ़ने वाली है।




- F-Secure की रिपोर्ट जिसका टाइटल ' थ्रेट लैंडस्कैप इंडिया 2016 एंड बियॉन्ड ' है, इसमें बताया गया है कि नोटबंदी के बाद से मोबाइल वॉलेट्स, टेलीकॉम वॉलेट्स, बैंक वॉलेट्स और इन्डिपेंडेंट वॉलेट्स का उपयोग बढ़ गया है। जिससे नए टाइप के खतरे भी उभर आए हैं।

बड़ा-खुलासा : छुट्टी के बदले जिस्म मांगते हैं अफसर,दिल्ली की महिला सिपाही ने किया बड़ा खुलासा

loading...
loading...
देश में सुरक्षा कि बात आती है तो दिल्ली पुलिस का नाम सबसे पहले आता है। दिल्ली पुलिस महिलाओं पर होने वाले अत्याचार को लेकर कई लोगों को जागरुक करती है।



जब भी किसी महिला के साथ किसी तरह कि कोई भी घटना घटती है तो दिल्ली पुलिस उसी महिला की बात को पहले सामने रखती है। लेकिन जब बात खुद दिल्ली पुलिस में काम कर रही महिलाओं के साथ गलत व्यवहार कि तो आप किसको इसका जिम्मेदार ठहराएगें।
जी हां, ताजा मामला दिल्ली पुलिस का ही है, जहां कम से कम 24 महिला पुलिसकर्मियों ने एक इंस्पेक्टर पर काम के दौरान उनका यौन शोषण करने का आरोप लगाया है।
पुलिस सूत्रों के अनुसार महिला पुलिसकर्मियों ने वरिष्ठ अधिकारियों तक अपनी शिकायत पहुंचा दी है। आरोपी इंस्पेक्टर दिल्ली पुलिस के प्रोविजनिंग एंड लॉजिस्टिक यूनिट में तैनात है।
पुलिस सूत्रों की मानें तो नई दिल्ली के सिविल लाइंस स्थित विभाग में तैनात एक महिला कांस्टेबल ने करीब पांच महीने पहले अपने वरिष्ठ अधिकारियों से इंस्पेक्टर द्वारा यौन शोषण किए जाने की शिकायत की थी।

उसकी शिकायत के अनुसार इंस्पेक्टर महिला कांस्टेबल से अकेले में मिलने को कहता था और जब उसने ऐसा करने से मना कर दिया तो वो उसका शोषण करने लगा। पुलिस सूत्र के अनुसार इसके बाद दूसरी महिला पुलिसकर्मियों ने भी उस इंस्पेक्टर के बारे में ऐसी ही शिकायतें दर्ज करायीं।

पुलिस सूत्रों के अनुसार इस मामले में दिल्ली के पुलिस कमिश्नर आलोक कुमार वर्मा से इस साल अप्रैल में शिकायत की गई थी और उन्होंने शिकायत को यौन शोषण कमेटी के पास अग्रसारित कर दिया था। यौन शोषण कमेटी का प्रमुख ज्वाइंट कमिश्नर रैंक का अधिकारी होता है। सूत्रों के अनुसार शिकायत की जांच जारी है। दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्ल्यू) में भी इस बारे में शिकायत दर्ज कराई गई है।

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में महिला सुरक्षा हमेशा ही एक चिंताजनक विषय रही है। आपको बता दें कि हाल ही में नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) द्वारा जारी डाटा के अनुसार साल 2015 में दिल्ली में 1893 रेप के मामले और 4563 यौन हमले के मामले दर्ज किए गए थे
जिसके अनुसार दिल्ली महिलाओं के लिए देश के सबसे असुरक्षित शहरों में एक है। 16 दिसंबर 2012 को दिल्ली में चलती बस में एक महिला से सामूहिक बलात्कार और हत्या के बाद राजधानी में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर हजारों लोग सड़कों पर उतर आए थे।

विरोध प्रदर्शनों के बाद केंद्र सरकार ने महिलाओं के संग होने वाले अपराधों से निपटने के लिए कड़ा कानून भी बनाया गया। हालांकि आंकड़ों के अनुसार 16 दिसंबर के मामले और नया कानून बनने के बाद भी दिल्ली में महिलाओं के संग होने वाले अपराधों में कमी नहीं आई है। दिल्ली में फिलहाल आम आदमी पार्टी की सरकार है लेकिन केंद्रशासित प्रदेश होने के कारण दिल्ली पुलिस भारत के गृह मंत्रालय के अंतर्गत काम करती है। महिला सुरक्षा और पुलिस पर नियंत्रण को लेकर आप सरकार और केंद्र सरकार के बीच तकरार होती रही है।

बड़ी-खबर : पाकिस्तान ने चंदू को भारतीय अधिकारियों को सौंपा

loading...
loading...
नई दिल्ली[21 जनवरी]: गलती से लाइन ऑफ कंट्रोल (एलओसी) पार कर पाकिस्‍तान पहुंचे भारतीय जवान चंदू चव्‍हाण को पाकिस्तान रिहा करेगा। चंदू थोड़ी देर में वाघा बॉर्डर के रास्ते भारत पहुंचेगा। चंदू करीब साढ़े तीन महीने तक पाकिस्तान के चंगुल में फंसा रहा।



- बता दें सेना का जवान चंदू चव्हाण सर्जिकल स्ट्राइक के दिन पीओके चला गया था। जिसे बाद में पाकिस्तानी सेना ने पकड़ लिया था।





पहले पाक ने किया इंकार




जिस समय चंदू एलओसी पार कर पाक की सीमा में पहुंच गए थे उसके बाद सरकार की ओर से कई बयान आए। गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि सरकार चंदू की सकुशल वापसी के लिए सारे प्रयास कर रही है। गृहमंत्री ने चंदू के दादा सीडी पाटील से खुद फोन पर बात कर इस बात का भरोसा उन्‍हें दिलाया था। रक्षा मंत्री मनोहर पार्रिकर ने कहा था चंदू की वापसी में कुछ दिनों का समय लगेगा लेकिन चंदू को देश वापस जरूर लाया जाएगा। पार्रिकर ने कहा था कि चंदू की वापसी के लिए डीजीएमओ की ओर हर तरह के प्रयास शुरू कर दिए गए हैं। इस्‍लामाबाद में पाक डीजीएमओ की ओर से गुरुवार को यह बात मानी गई है कि चंदू उनके कब्‍जे में हैं।

BREAKING: भारतीय जवान चंदू चव्‍हाण को रिहा करेगा पाकिस्तान...

loading...
loading...

नई दिल्ली[21 जनवरी]: भारतीय सैनिक चंदू के लिए सरहद पार से खुश खबर आई है गलती से लाइन ऑफ कंट्रोल (एलओसी) पार कर पाकिस्‍तान पहुंचे भारतीय जवान चंदू चव्‍हाण को पाकिस्तान रिहा करेगा।

बराक ओबामा के जाते-जाते अमेरिका की बड़ी कारवाई, मार गिराए 100 अल कायदा आतंकी…!

loading...
loading...
नई दिल्ली:- बराक ओबामा के टेन्योर के आखिरी घंटों में अमेरिकी एयरफोर्स ने बड़ी कार्रवाई की है। यूएस के वॉर प्लेन्स ने सीरिया में अल कायदा के ट्रेनिंग कैम्प पर हमला किया, जिसमें 100 से ज्यादा आतंकी मारे गए| और अमेरिकी डिफेंस डिपार्टमेंट के हेडक्वार्टर्स पेंटागन की तरफ से जारी बयान में यह जानकारी दी गई है।



आपको बता दे कि न्यूज एजेंसी के मुताबिक, पेंटागन के स्पोक्सपर्सन नेवी कैप्टन जेफ डेविस ने शुक्रवार को बताया कि हवाई हमले सीरिया के इदलिब प्रोविन्स में आतंकी संगठन अल कायदा के ट्रेनिंग कैम्प को टारगेट कर किए गए | यह हमला बराक ओबामा का टेन्योर खत्म होने के एक दिन पहले गुरुवार को किया गया।

शेख सुलेमान नाम से अल कायदा का यह ट्रेनिंग कैम्प 2013 से चलाया जा रहा था। सीरिया में किए गए हवाई हमले में अमेरिका ने एक B-52 बमवर्षक और ड्रोन विमानों का इस्तेमाल किया | दावा किया गया है कि हमले में कोई भी लोकल सिटिजन नहीं मारा गया।

ट्रेनिंग कैम्प कट्टरपंथी इस्लामिक और सीरिया के अपोजिशन ग्रुप से अल कायदा में शामिल होने और इसके लिए लड़ाई लड़ने के लिए चलाया जा रहा था। पेंटागन के मुताबिक, इससे एक दिन पहले लीबिया में भी कार्रवाई की गई थी, जिसमें आईएसआईएस के 80-90 आतंकी मारे गए थे।


हमले में अमेरिका ने B-2 स्टील्थ बॉम्बर्स और ड्रोन विमानों का इस्तेमाल किया था। लीबिया हमले को बराक ओबामा ने मंजूरी दी थी। अभी ये क्लियर नहीं है कि सीरिया स्ट्राइक के लिए सीधे उनसे मंजूरी ली गई थी या नहीं।

Friday, 20 January 2017

बिग बॉस का बवाल पहुंचा अदालत, सलमान और स्वामी ओम समेत कलर्स चैनल पर केस दर्ज !

loading...
loading...

एडवोकेट अनिल द्विवेदी ने इस मामले में कोर्ट से स्ट्रिक्ट एक्शन की मांग की थी जिसके बाद कोर्ट ने सलमान, स्वामी और नायक के खिलाफ क्रिमिनल केस दर्ज कर लिया है।

मुंबई:- बिग बॉस सीज़न 10 तमाम बातों के बीच अपने विवादों के लिए भी जाना जाएगा। ताज़ा विवाद यह है कि कि उत्तर प्रदेश के बरेली में 'बिग बॉस' के होस्ट सलमान ख़ान, एक्स-कंटेस्टेंट स्वामी ओम और कलर्स चैनल के सीईओ राज नायक के खिलाफ एक केस रजिस्टर्ड कराया गया है।

बिग बॉस 10 में सलमान, स्वामी ओम और राज नायक पर फूहड़ता को बढ़ावा देने और धार्मिक भावनाओं को आहत करने का आरोप लगाया है। इस मामले में अनिल द्विवेदी नाम के वकील की याचिका पर 18 जनवरी को बरेली के चीफ जुडिशियल मजिस्ट्रेट कुसुमलता राठौर की कोर्ट में केस दर्ज किया गया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, वकील अनिल द्विवेदी ने अपनी शिकायत में कहा है कि यह रियलिटी शो बेहूदगी को बढ़ावा दे रहा है और इसमें अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया जा रहा है।

ख़बरों के मुताबिक, वकील के यह आरोप शो के होस्ट सलमान ख़ान और कलर्स चैनल के सीईओ राज नायक पर भी हैं। शिकायत में यह भी कहा गया है कि हिंदू संतों की पोशाक पहनकर स्वामी ओम के मांस खाते हुए दिखाये जाने से हिन्दू धर्म और संतों की गरिमा धूमिल होती है।


एडवोकेट अनिल द्विवेदी ने इस मामले में कोर्ट से स्ट्रिक्ट एक्शन की मांग की थी जिसके बाद कोर्ट ने सलमान, स्वामी और नायक के खिलाफ क्रिमिनल केस दर्ज कर लिया है। इस मामले की सुनवाई के लिए चीफ जुडिशियल मजिस्ट्रेट कुसुमलता राठौर ने 13 फरवरी की तारीख तय की है।

3.5 लाख लोगों ने एक साथ गाया राष्ट्रगीत, गिनिज बुक में रिकॉर्ड दर्ज !

loading...
loading...

राजकोट(21 जनवरी): गुजरात के राजकोट में 3.5 लाख लोगों ने एक साथ राष्ट्रगीत गाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड दर्ज किया। ये रिकॉर्ड गिनिज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हो गया। खोडाल धाम प्राण प्रतिष्ठा महोतशव में हुआ रचा गया यह रिकॉर्ड।

Lifestyle